बादाम वाला दूध क्यों नहीं पीना चाहिए | Why should not drink almond milk

इस लेख में आप को बताएँगे की बादाम वाला दूध क्यों नहीं पीना चाहिए और आप इसे इंग्लिश में कहे तो Why should not drink almond milk इसके बारे में जानने वाले है।वैसे देखा जाए तो दूध पिने के बहोत से फायदे है। इसका कारन है इसमें पाए जाने वाला पोस्टिक तत्त्व जो की हमे बहोत ही फायदे मंद होता और सबसे जरुरी बात दूध का महत्वता और पोस्टिक तत्व का बढ़ने के लिए लोग बहोत से अलग लग प्रकार के नट्स का इस्तेमाल करते है खासतर बादाम पिस्ता काजू अख़रोट और भी बहोत से प्रकार के नट्स भी होते है।

इन सभी चीजों में विभिन प्रकार के फलदायी आहार पायेजाते है जिससे हमारे सेहत को बहोत ही फायदा होता है। किन्तु कुछ नट्स ऐसे भी होते है जिनके अधिकतम सेवन करना हमारे सेहत के लिए बहोत परेशानी बन सकता है और वह है बादाम है जिसके ज्यादा पर्याप्त मात्रा से ज्यादा सेवन करन से हमारे सेहत के लिए ठीक नाही होता।

इससे हमे क्या क्या परेशानिया आसक्ति है भविष्य में यदि हम इसका सेवन ज्यादा मात्रा में करे तो। किन्तु यदि हम पर्याप्त मात्रा में करे तो है ठीक है ,पर यदि हमे ज्यादा मात्रा में दूध में मिलकर पिए तो इससे हम कए परेशानिया हो सकती है यह हम जानेंगे।

वैसे दूध का सेवन करना किसे पसंद नहीं सभी को दूध पीना अच्छा लगता है। डॉक्टर भी यही सलाह देता है यदि हम सोने से पहले यदि हम दूध का सेवन करे तो हमारे सेहत के लिए अच्छा होता है। दूध का सेवन छोटे से लेकर बड़े तक , लेना पसंद करते है और इसमें यदि कुछ और प्रकार के सामग्री मिलाकर पिए तो इसका टेस्ट बढ़ा दे और पोस्टिक तत्वता भी बढ़ा दे जैसे काजू ,चॉक्लेट ,बोर्नविटा (multi-vitamin) इनके डालने से दूध के टेस्ट और भी अच्छा लगता है और इसके साथ इसमें पायेजाने वाले पोस्टिक तत्त्व में बढ़ोतरी होजाती है।

जिससे हमारे सेहत में कभी बादुला सा होता है जैसे की ,एनर्जेटिक लगना ,फ्रेश और अच्छा महसूस होना ,कर्म करने में लालसा बढ़ाना। परन्तु क्या आपको पता है क्या यदि दूध को बादाम को मिलकर कर इसका सेवन करे तो इसका आगे जाकर हमारे सेहत पर काफी दुष्परिणाम हो सकता है। इसके बारेमे जानना काफी जरुरी और महत्व की बात है सभी लोगो के लिए।

तो दोस्तों अब हम जानेंगे की ऐसे कौन कौन सी चीजों की परेशानिया हो सकती है यदि अधिक मात्रा में बादाम का सेवन दूध के साथ करे तो ,तो चले इसके बारे में जानेंगे एक एक कर।

बादाम वाला दूध क्यों नहीं पीना चाहिए | Why should not drink almond milk

दूध और बादाम का सेवन अधिकमात्रा में करें तो हमे जिन जिन परेशानियों का जीवा में होना होसकता है भविष्य में इसके बारे में जानेंगे। इससे पहले हमे कुछ महत्व की चीजे जानेंगे बादाम के बारे में।

बादाम में क्या पाया जाता है हिंदी में (what is found in almonds in hindi)

अब हम जानेंगे गे की बादाम के मदद से किन किन तत्त्व को पाया जाता है जिसक का अंग्रजी में लिखा जाए तो badam me kya paya jata hai in hindi और इसमें पाए जाने वाले तत्त्व है फाइबर ,प्रोटीन ,विटामिन इ ,माँगनेसियम ,मैंगनीज ,कॉपर ,फॉस्फोरस ,इन सभी तत्वे बादाम के महत्वता को बढ़ाते है और हमारे सेहत को पोसटिकता से सेहत को मजबूत कर देती है। और यदि हम इसके फायदे के बारे में जाने तो ऐसे बहोत से है जैसे की हाडियो लो मजबूत करने में बहोत मदद करती है और वजन कम करने में भी काफी हदतक मदद करता है और यदि स्वास्थ के हिसाब में देखे तो ह्रदय के रोग और मधुमेय जैसे हानिकारक बीमारियों को कम करने में बहोत मदद करता है।

यदि आप बादाम खरीदना चाहते है तो आप ऑनलाइन खरीद सकते है वो भी amazon से जिस पर अच्छा ऑफर चल रहा है

Best almond price per kg – check price

बादाम के साइड इफेक्ट हिंदी में

बादाम के कुछ साइड इफेक्ट्स भी होते जिनके बारे में हम जानेंगे। तो चलो जानते है (badam ke side effects in hindi) में।

यदीन हमे बादाम का सेवा पर्याप्त मात्रा में करे तो यह हुमा सेहत के लिए बहोत ही फल दायी होता है और यही बादाम हम यदि ज्यादा मात्रा में सेवन करे तो इसका उल्टा परिणाम होसकता है है याने की सरीर को परेशानियों सामना करना पड़सकता है। वैसे तो बादाम को पोस्टिक के आहार के बारे में पावरहाउस कहा और माना जाता है ,और खाने में बहोत ही अच्छा लगता है।

इतने सभी फायदे के साथ साथ यह हमे नुकशान भी पहुँचता है वो हम जानेंगे।

१. यदि बादाम के सेवन दूध के साथ अधिक मात्रा में करे तो हमारे पेट की परेशानियों को बढ़ता है जैसे की हल्का पेट दर्द होंना ,अपच, पाचन तंत्रो में हल्का समस्या पैदा होना ,पचने परेशानी होना और पेट में अजीब सा होना और यही हम दूध में इसका बहोत कम मात्रा में सेवन करे तो इसका कुछ भी असर नहीं होगा।

२. यदि जिन लोगो को नट्स से एलर्जी है उन्हें तो बादाम के दूध का सेवन बिलकुल ही नहीं करना चाहिए और जिन लोगो को लैक्टोस से एलेर्जी है उन लोगो को भी इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

३. ज्यादातर देखा जाए तो बादाम के दूध में साधारण गाय के दूध की तुलना अधिक चीनी की मात्रा होती है जो की शुगर लेवल को बढाती है जो की सेहत के लिए काफी नुकशान दायक होती है।

४. बहोत से कम लोगो को बादाम के दूध को गाइट्रोजेनिक फ़ूड माना जाता है ,और इसका मतलब यही होता है ,इसमें ऐसे रसायन पाया जाता है जो की ,यदि इसका अधिक मात्रा में सेवन किया जाय तो सेहत को नुकशान पंहुचा सकता है और थाइरोइड के फंक्शन में कमिया ला सकता है।

५. बादाम का दूध शिशुओं के लिए अच्छा नहीं माना जाता यह उनके लिए नुकशान दायक होता है ,शिशुओं के लिए माँ का दूध ही सबसे अच्छा होता है।

Conclusion – अंतिम शब्द

तो आज हम इस पोस्ट में एक सवाल के बार में जाने है और वो है बादाम वाला दूध क्यों नहीं पीना चाहिए या फिर इंग्लिश में कहसकते है व why should not drink almond milk, को जाने है और इसमें हमने यह भी जाना है दूध और बादाम हमारे लिए कैसे फलदायी और नुकशान दायी है और हमे किन किन परेशानियों को भुगतना पड़सकता है यदि इसका अधिक मात्रा में सेवन करे तो क्या होगा। तो दोस्तों यह पोस्ट आपको अच्छा लगे तो प्लीज इसे शेयर करे ताकि दूसरे लोगो को इसकी मदद मिले और इसके बारे में जान्सके। धन्यवाद् ।

Disclaimer : Above points given is simple informative advice only please consult with a professional or your doctor to understand every thing in a detail before applying any treatment or any diagnosis.
Hey there!In Healthotips Website, Some Pages Include Affiliate link. And If you click on this link, I get some commision And Also Include Images on this site used from Amazon and Pixabay.com